Tuesday, October 2, 2012

"मृगतृष्णा "


अपार हर्ष के साथ सूचित कर रहा हूँ की मेरी पुस्तकमृगतृष्णा प्राकशित हुई है
इसमें १० कवियों की अनमोल रचनाएं हैं
आप इसे यहाँ से प्राप्त कर सकते हैं
साभार 


इन्फीबिम से प्राप्त करें मृगतृष्णा
फ्लीप्कार्ट से प्राप्त करें मृगतृष्णा


4 comments:

  1. बेहद खूबसूरत.........बहुत बहुत बधाई !!

    ReplyDelete
  2. bahut aabhaar sanjay ji
    dhanyavaad aapka

    ReplyDelete